Saturday, April 13, 2024
Homeराज्‍यों की खबरेंउत्‍तर प्रदेशमधुमक्खियों ने हमला किया तो प्रेमिका को सड़क पर चीखती-चिल्लाती छोड़ भाग...

मधुमक्खियों ने हमला किया तो प्रेमिका को सड़क पर चीखती-चिल्लाती छोड़ भाग प्रेमी

कानपुर, सीएनए। “जिंदगी भर साथ जीने-साथ मरने की कसम खाने वाला प्रेमी अपनी प्रेमिका को अधर में छोड़कर उस समय भाग खड़ा हुआ जब मधुमक्खियों के झुंड ने प्रेमिका पर हमला बोल दिया।” प्रेमिका के सिर, मुंह व पूरे शरीर पर मधुमक्खियों ने बुरी तरह से काटकर उसे “घायल” कर दिया। प्रेमिका चीखती-चिल्लाती रही और प्रेमी देखते ही देखते नौ-दो ग्यारह हो गया।

नागरिकों एवं एक ट्रैफिक कांस्टेबल ने जैसे-तैसे युवती को मधुमक्खियों के हमले से बचाया। इस घटना का वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वैसे तो तनाव को दूर भगाने के लिए सैर सपाटा बहुत जरूरी है…लेकिन एतिहात ना बरतने पर वही सैर सपाटा जानलेवा भी साबित हो सकता है…? ऐसी ही घटना कानपुर के नवाबगंज थाना क्षेत्र स्थित गंगा बैराज पर कल शाम देखने को मिली…जहां बैराज घूमने आए एक प्रेमी जोड़े पर मधुमक्खियों ने हमला बोल दिया…मधुमक्खियों के हमले से बचने के लिए प्रेमी अपनी प्रेमिका को छोड़कर भाग निकला, मधुमक्खियों ने प्रेमिका को घेर लिया और उसके चेहरे व पूरे शरीर पर जमकर काटा।

बदमाशों ने दिनदहाड़े मां-बेटी को मारी गोली, मां की मौत, बेटी की हालत गंभीर

युवती के चीखने-चिल्लाने पर बैराज पर सैर सपाटा करने आये लोग उसको बचाने के बजाय काफी देर तक तमाशबीन बने रहे…उनकी समझ में ही नहीं आ रहा था कि लड़की को बचाएं तो कैसे ? वहां मौजूद ट्रैफिक कांस्टेबल भूरे सिंह ने अन्य लोगों की मदद से लड़की पर पानी की छिड़काव कराकर उसे जैसे-तैसे मधुमक्खियों के हमले से बचाया। मधुमक्खी युवती के शरीर व सिर में झुंड के रुप में चिपट गईं थीं। प्रेमिका पर मधुमक्खियों के हमले का वीडियो किसी ने बनाकर सोशल मीडिया पर डाल दिया जो तेजी से वायरल हो रहा है।

मधुमक्खियों के हमले में महिला की हो चुकी है मौत

कानपुर में गंगा किनारे मधुमक्खियां लगातार जानलेवा साबित हो रहीं हैं। 6 अप्रैल 2018 को तो आंकिन गंगा तट पर मुंडन संस्कार के दौरान हो रहे हवन-पूजन के धुएं से परेशान मधुमक्खियों ने लोगों को दौड़ा-दौड़ाकर इतनी बुरी तरह से काटा था, कि एक बुजुर्ग महिला की मौत हो गयी थी और करीब और 25 लोग बुरी तरह मधुमक्खी के डंक की चपेट में आकर घायल हो गए थे। बिल्हौर के आंकिन गंगा तट पर राजबहादुर नामक युवक अपनी बीवी और मोहल्ले के लोगों के साथ अपने बच्चे का मुंडन करवाने गए थे। महिलाएं पेड़ के नीचे हवन-पूजन कर रही थीं, तभी अचानक पेड़ के ऊपर लगे छत्ते से मधुमक्खियों ने वहां मौजूद सभी लोगों पर हमला बोल दिया था।

ताजा खबरों के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments