Tuesday, February 27, 2024
Homeदेश-विदेशएम्स में भर्ती अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन की कोरोना से मौत

एम्स में भर्ती अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन की कोरोना से मौत

नई दिल्ली, सीएनए। आज कोरोना वायरस से अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन की मौत हो गई है। छोटा राजन को पिछले दिनों कोविड संक्रमण से इलाज के लिए एम्स अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

बताते चले कि छोटा राजन को तिहाड़ जेल में बंद रहने के दौरान कोरोना हो गया था। अप्रैल के आखिरी सप्ताह में उसकी रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद उसे अस्पताल में एडमिट कराया गया था। कई दिनों तक उसकी हालत स्थिर बनी हुई थी, लेकिन शुक्रवार को उसने दम तोड़ दिया।

70 से अधिक केस दर्ज थे

अंडरवर्ल्ड डॉन छोटा राजन पर अपहरण और हत्या के मामलों समेत 70 से अधिक केस दर्ज थे। उसे मुंबई के सीनियर पत्रकार ज्योतिर्मय डे की हत्या में दोषी करार देते हुए आजीवन कैद की सजा सुनाई गई थी। 

इसे भी पढ़े-कोरोना से एक दिन में 3293 मौते, देश के 150 जिलों में लग सकता है Full 

मुंबई में 1993 में हुए सीरियल बम ब्लास्ट में भी छोटा राजन आरोपी था। छोटा राजन का असली नाम राजेंद्र निकालजे था। 2015 में उसे इंडोनेशिया से भारत प्रत्यर्पित कर लाया गया था। 26 अप्रैल को उसे कोरोना संक्रमण से इलाज के लिए एम्स ले जाया गया था।

तिहाड़ जेल के एक अधिकारी ने 26 अप्रैल को एक केस की सुनवाई के दौरान बताया था कि छोटा राजन को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग पर पेशी के लिए नहीं लाया जा सकता। इसकी वजह यह है कि उसे कोरोना पॉजिटिव पाया गया है और अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

सपा के कद्दावर नेता पंडित सिंह का कोरोना से निधन

यूपी के पूर्व मंत्री और सपा के कद्दावर नेता विनोद कुमार उर्फ पंडित सिंह का कोरोना से निधन हो गया। कोरोना संक्रमण के चलते लखनऊ में पंडित सिंह का इलाज चल रहा था। काफी दिनों से मिडलैंड हॉस्पिटल में भर्ती थे। गोंडा के नवाबगंज इलाके के रहने वाले पंडित सिंह की गिनती यूपी के कद्दावर नेताओं में होती थी। पंडित सिंह के निधन से सपा खेमे में शोक की लहर दौड़ गई है। पंडित सिंह पहले भी दो बार संक्रमित होने के बाद कोरोना को मात दे चुके थे। सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने पंडित सिंह के निधन पर गहरा दुख जताया है।

कोरोना पॉजिटिव आए पंडित सिंह की हालत पिछले महीने से खराब थी। 21 अप्रैल को उन्हें पहले लखनऊ में भर्ती कराया गया था। कुछ सुधार के बाद गोरखपुर लाकर एससीपीएम हास्पिटल में भर्ती कराया गया था। जहां अचानक हालत बेहद गंभीर होने पर फिर लखनऊ शिफ्ट किया गया था। परिजनों के मुताबिक सांस लेने में दिक्कत आ रही थी और वेंटिलेटर पर थे। उनके बेटे सूरज सिंह से चिकित्सकों ने बताया था कि उनकी हालत ठीक नहीं है। इससे पहले भी पूर्व मंत्री दो बार कोरोना पॉजिटिव आ चुके थै।

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments