Saturday, April 13, 2024
Homeराज्‍यों की खबरेंउत्‍तर प्रदेशचौरी चौरा विधानसभा के नागरिकों ने किया सरवन निषाद का विरोध, जलाया...

चौरी चौरा विधानसभा के नागरिकों ने किया सरवन निषाद का विरोध, जलाया पुतला

विधानसभा चुनाव 2022 में इस समय चौरी चौरा विधानसभा की सीट काफी विवादों के घेरे में दिखाई दे रही है। पहले तो भारतीय जनता पार्टी के हीं चार प्रबल दावेदार दिखाई दे रहे थे मगर जब भारतीय जनता पार्टी और निषाद पार्टी का गठबंधन हुआ तो निषाद पार्टी के एक उम्मीदवार ईश्वरचंद जायसवाल का नाम सामने आया। बाद में ईश्वरचंद जायसवाल का नाम काटते हुए निषाद पार्टी ने निषाद पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ संजय निषाद के छोटे पुत्र सरवन निषाद को मैदान में उतारा।

सरवन पहले गोरखपुर ग्रामीण सीट से कर रहे थे तैयारी

सरवन निषाद पहले गोरखपुर ग्रामीण से चुनावी मैदान में ताल ठोकने की तैयारी कर रहे थे मगर फिर वहां से विधायक रह चुके विपिन सिंह को पुनः टिकट देकर सरवन निषाद को चौरी चौरा विधानसभा से टिकट दिया गया है। जिसके विरोध में कल रात से ही चौरी चौरा की जनता डॉक्टर संजय निषाद और सरवन निषाद का जगह-जगह प्रतीकात्मक पुतला फूंक रही है ।

जनता कई आरोप लगा रही है जिसमें मुख्यत: यह है कि सरवन निषाद बाहरी है और बाहरी आदमी कभी भी हमारी समस्याओं में समय पर खड़ा नहीं रहेगा ,हमें अपने क्षेत्र का आदमी चाहिए। दूसरे आरोप है कि डॉक्टर संजय निषाद कभी सपा में रहते हैं कभी बसपा में रहते हैं और कभी भाजपा में रहते हैं ।यह सत्ता के लिए राजनीतिक पार्टियां बदलते रहते हैं और खुद परिवारवाद की राजनीति करते हैं। जब इनका एक लड़का सांसद है और यह खुद एमएलसी है तो इन्हें अपने छोटे लड़के को विधायक बनाने की क्या जल्दी है।

इसे भी पढ़े-पूज्य ट्रस्ट के कार्यकता जगह-जगह जरूरतमंदो में बाट रहे कपड़े

लोगों ने नारेबाजी भी की

जो आदमी सिर्फ अपने परिवार का सोचता है वह जनता का नहीं सोच सकता है। लोगों ने सरवन निषाद वापस जाओ के नारे लगाए और चौरी चौरा मुख्य चौराहे पर डॉक्टर संजय निषाद और सरवन निषाद का पुतला फूंका। पुतला फूंक के समय पब्लिक की अत्यधिक भीड़ के कारण मुख्य रोड पूरी तरह से जाम हो गया था। संयोग से उसी समय क्षेत्र में सरवन निषाद का प्रचार काफिला चौरीचौरा चौराहे से गुजरा तो लोगों ने इसका जबरदस्त विरोध किया, कुछ लोग गाड़ी के आगे लेट गए। बहुत मुश्किलों से पुलिस के हस्तक्षेप से और समझाने बुझाने पर वहां से किसी तरीके से सरवन निषाद का काफिला आगे बढ़ पाया।

निषाद पार्टी के मीडिया प्रभारी निक्की निषाद ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जो लोग विरोध कर रहे हैं वही लोग कल प्रचार करेंगे और वहीं लोगों वोट देने भी आएंगे। परिवारवाद के आरोप पर निक्की निषाद कुछ स्पष्ट जवाब नहीं दे पाए। चोरी चोरा की जनता ने भाजपा छोड़ने तक की बात कही। इस पर कांग्रेस पार्टी के स्टार प्रचारक तौकीर आलम ने भाजपा पर तानाशाही का आरोप लगाते हुए भाजपा के साथ-साथ उन सभी पार्टियों के लोगों से कांग्रेश ज्वाइन करने की अपील की जिन को उनकी पार्टी में सम्मान नहीं मिलता है।

हमारे फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए क्लिक करें

RELATED ARTICLES

Most Popular

Recent Comments